छत्रपति हत्याकांडः वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से होगी राम रहीम की पेशी

 

 

नई दिल्ली

छत्रपति हत्याकांड में सीबीआई कोर्ट ने सरकार को बड़ी राहत दे दी है। दरअसल, कोर्ट में अब डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को पेश नहीं करना पड़ेगा। कोर्ट ने 11 जनवरी को बाबा की पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कराने के निर्देश दे दिए हैं। लेकिन बाकी के तीनों आरोपियों को प्रत्यक्ष रूप से कोर्ट में पेश होना होगा। विशेष सीबीआई कोर्ट के जज जगदीप सिंह ने हरियाणा सरकार द्वारा दाखिल याचिका पर सुनवाई की।

 

राम रहीम की पेशी को लेकर सीबीआई जज के इस निर्देश के बाद सरकार और पुलिस ने राहत की सांस ली है क्योंकि दो साध्वियों से यौन शोषण मामले में जब फैसला सुनाया गया था तो पंचकूला में हिंसा हो गई थी, जिसमें काफी जान माल का नुकसान हुआ था। पूरे हरियाणा में करीब 40 लोग मारे गए थे। हजारों की संख्या में डेराप्रेमी सड़कों पर उतर आए थे। हरियाणा सरकार और पुलिस नहीं चाहती कि इस बार ऐसे ही हालात बनें।

24 अक्टूबर 2002 में हुई थी हत्या

गौरतलब है कि साध्वी यौन शोषण मामले में जो लेटर लिखा गया था उसी के आधार पर छत्रपति ने अपने अखबार में खबरों को प्रकाशित किया था। इसके बाद पहले तो छत्रपति पर खबरें न छापने का दबाव बनाया गया, लेकिन वह नहीं माने। 24 अक्तूबर 2002 को उन पर हमला कर दिया। 21 नवंबर 2002 को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में उनकी मौत हो गई। 16 साल पुराने इस मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सहित चार आरोपी हैं।

You Might Also Like

प्रमुख खबरें

लाइव क्रिकेट स्कोर

सोशल प्लेटफार्म से जुडें

जुडें हमारे फेसबुक पेज से

जुडें हमारे ट्विटर पेज से

आपके विचार